इस नवरत्न कंपनी ने पांच महीने में दिया 110% का रिटर्न। जाने पूरी खबर ?

Coal India ने इस साल दिया है परसेंट110% का रिटर्न।

दोस्तों अपने बहुत ऐसी कंपनियां देखी होंगी जो 2 ,3, 4 या 5 महीने में पैसे कई गुना कर देती है। मगर उन कंपनियों में अधिकतर कंपनी होती है स्मॉल कैप।क्योंकि स्मॉल कैप कंपनी एक मिडकैप तथा लार्ज कैप कंपनी से ज्यादा रिटर्न आपको दे सकती है और यह बहुत कम समय में दोगुनी, तीन गुनी तथा चार गुनी रिटर्न भी आपको दे सकती है। मगर बात करे लार्ज कैप कंपनी की या मिडकैप कंपनी की तो ये कंपनी आपको रिटर्न तो देती है मगर इतना अच्छा रिटर्न नहीं देती । कुछ कंपनी ऐसी होती हैं जो लार्ज कैप भी होती है और रिज़ल्ट भी बहुत अच्छा देती है। उन्हीं में से एक कंपनी है Coal India कोल इंडिया । आज हम इस पोस्ट में बताएंगे कैसे Coal India ने सिर्फ पांच महीने में आपके पैसे डबल की है या उससे भी ज्यादा परसेंट का रिटर्न दिया है |

अगर दोस्तों कोल इंडिया कंपनि की प्राइस की बात की जाए तो सितंबर 2023 में इस कंपनी का प्राइस Rs 230 per share चल रहा है अगर बात करें फरवरी 2024 की तो इसी कंपनी ने Rs 487 Per Share का हार्ड लगाकर कमाल के रिटर्न दर्ज कराया है।

Coal India कंपनी ने पांच महीने में दिया 110% का रिटर्न
Coal India कंपनी ने पांच महीने में दिया 110% का रिटर्न

वही अगर हम बात करें ऑल टाइम हाई की तो कंपनी ने ₹445 का ऑल टाइम हाई जो कि 20 जुलाई 2015 को कंपनी ने लगाया था उसको भी तोड़ दिया है। जिसके कारण इन कंपनी शेयर प्राइस मैं बहुत जल्दी से इतनी तेजी देखी गई है और इस कंपनी ने इस साल और इन पिछले पांच महीनों से अपने ग्राहकों को मालामाल कर दिया है।

Also Read : QIP : जाने क्या होता है Qualified Institutional Placement और कैसे करता है काम।

कंपनी के बारे में |

कोल इण्डिया लिमिटेड (सीआईएल) राज्य के स्वामित्व वाली कोयला खनन कंपनी नवंबर 1975 में अस्तित्व में आई। अपनी स्थापना के वर्ष में 79 मिलियन टन (एमटी) का साधारण उत्पादन करने वाली सीआईएल, आज दुनिया की सबसे बड़ी कोयला उत्पादक और 239210 (1 अप्रैल, 2023 तक) की जनशक्ति के साथ सबसे बड़े कॉर्पोरेट नियोक्ता में से एक है। सी आई एल भारत के आठ (8) राज्यों में विस्तृत 83 खनन क्षेत्रों में अपनी अनुषंगी कंपनियों के माध्यम से कार्य करती है। कोल इण्डिया लिमिटेड की 322 (1 अप्रैल 2023 तक) खदानें हैं जिनमें से 138 भूमिगत, 171 खुली खदानें और 13 मिश्रित खदानें हैं और यह कार्यशालाओं, अस्पतालों आदि जैसे अन्य संस्थानों का भी प्रबंधन करती है। सी आई एल में 21 प्रशिक्षण संस्थान और 76 व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्र हैं। भारतीय कोयला प्रबंधन संस्थान (आई आई सी एम) एक अत्याधुनिक प्रबंधन प्रशिक्षण ‘उत्कृष्टता केंद्र’ के रूप में – भारत में सबसे बड़ा कॉर्पोरेट प्रशिक्षण संस्थान – सी आई एल के अधीन संचालित होता है जो बहु-विषयक कार्यक्रम संचालित करता है।

 

 

Leave a Comment